Home उत्तर बिहार प्रांतीय प्रचार – प्रसार कार्यशाला

प्रांतीय प्रचार – प्रसार कार्यशाला

287
1
Vidya Bharati Prachar Vibhag
Vidya Bharati Prachar Vibhag

विद्या भारती के रचनात्मक कार्यों को जन जन तक पहुंचाना प्रचार विभाग की नैतिक जिम्मेवारी : रामलाल

मुजफ्फरपुर लोक शिक्षा समिति बिहार के तत्वावधान में दो दिवसीय प्रांतीय प्रचार – प्रसार कार्यशाला को मुजफ्फरपुर के सदातपुर , केशव नगर स्थित सरस्वती विद्या मंदिर में शुभारंभ हुआ।

कार्यशाला का शुभारंभ लोक शिक्षा समिति बिहार के प्रदेश सह सचिव रामलाल सिंह, उत्तर बिहार प्रांत के प्रचार विभाग के मार्गदर्शक ललित कुमार राय, प्रान्त प्रचार प्रमुख नवीन सिंह परमार, सरस्वती विद्या मंदिर सदातपुर विद्यालय प्रबंधकारिणी समिति के सचिव अभय गुप्ता, विद्यालय के प्रधानाचार्य विश्व बिहारी श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलन कर किया।

इस मौके पर प्रस्तावना उद्बोधन में प्रचार विभाग के मार्गदर्शक ललित कुमार राय ने बताया विद्या भारती की गतिविधियों को जन जन तक पहुचाने में प्रचार विभाग के कार्यकर्ताओं की अहम भूमिका है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लोक शिक्षा समिति बिहार के प्रदेश सह सचिव रामलाल सिंह ने कहा व्यक्ति निर्माण में प्रचार विभाग की अहम भूमिका है। समाज के बीच विद्या भारती के द्वारा संचालित किए जा रहे रचनात्मक कार्यों को प्रचार विभाग के माध्यम से जन जन तक पहुंचाना हम सभी कार्यकर्ताओं की नैतिक जिम्मेवारी है।

अध्यक्षीय उद्बोधन में विद्या भारती उत्तर बिहार के प्रांत प्रचार प्रमुख नवीन सिंह परमार ने कहा भारत मे वैचारिक युद्ध चल रहा है इस वैचारिक युद्ध को जीतने के लिए हमें अपने प्रचार तंत्र को मजबूत करना होगा।

धन्यवाद ज्ञापन विद्यालय प्रबंधकारिणी समिति के सचिव अभय गुप्ता ने किया।

इस अवसर प्रान्त प्रचार टोली सदस्य प्रशांत कुमार, प्रान्त सह प्रचार प्रमुख ललन राय, प्रान्त सोशल मीडिया प्रमुख रवि श्रीवास्तव, प्रान्त संवाददाता लालबाबु राय, प्रान्त टोली के सदस्य सुनील ठाकुर, अमरेश रंजन ओझा, संजीत कुमार, प्रशांत कुमार, आनंद कुमार झा, सत्यम कुमार, सोमेश कुमार, रंजीत भारती, आलोक कुमार, वीरू कुमार चौबे,अखिलेश श्रीवास्तव, प्रज्ञा द्विवेदी,विमलेश कुमार सिंह समेत उत्तर बिहार के विभिन्न जिलों के दर्जनों कार्यकर्ता शामिल हुए।

और पढ़े:- अमृत महोत्सव कार्यक्रम

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here