Home हिमाचल राज्य स्तरीय खेलकूद(कब्बडी)

राज्य स्तरीय खेलकूद(कब्बडी)

42
0
State Level Sports (Kabaddi)
हिमाचल शिक्षा समिति द्वारा संचालित सरस्वती विद्या मन्दिरों की तीन दिवसीय राज्य स्तरीय खेलकूद(कब्बडी) का सरस्वती विद्या मन्दिर हटगढ़ में शुभारम्भ ।
भारत को आगे बढना है तो खेलों में भी भारत को विश्व पटल पर अग्रणी होना पड़ेगा – प्रदीप कुमार

हिमाचल शिक्षा समिति द्वारा संचालित सरस्वती विद्या मन्दिर की तीन दिवसीय राज्य स्तरीय खेलकूद(कब्बडी) का शुभारम्भ सरस्वती विद्या मन्दिर हटगढ़, जिला मण्डी में श्री संदीप कुमार जी HPFS सहायक अरणयपाल द्वारा किया गय । मुख्यातिथि श्री संदीप कुमार जी ने खिलाड़ियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि खेल हमारे जीवन में अनुशासन तथा उर्जा दोनों लेकर आते हैं । खेल-खेल से भैया-बहनो में एकता की भावना जागृत होती है । आज के इस युग में भैया बहनों में शिक्षा के साथ-साथ खेल का होना भी जरूरी है ताकि भविष्य की युवा पीढ़ी नशे से दूर रह सके । भारत को आगे बढना है तो खेलों में भी भारत को विश्व पटल पर अग्रणी होना पड़ेगा । उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ खेल का छात्र जीवन में बहुत महत्व है । शरीर ईश्वर की एक बहुमूल्य भेंट है इसे स्वस्थ रखने का कार्य अपने हाथ में है । शरीर यदि स्वस्थ नहीं होगा तो पढ़ाई भी अच्छे से नहीं हो सकेगी । स्वस्थ शरीर व स्वस्थ मन एक बेहतर समाज का निर्माण कर सकता है। उन्होंने खिलाड़ियों को अपनी योग्यता व क्षमता के साथ आगे बढ़ने व संस्कारों को जिन्दगी में बनाये रखने के लिए प्रेरित किया ।

कार्यक्रम के मुख्यवक्ता विद्या भारती हिमाचल प्रांत संगठन मंत्री श्री ज्ञान सिंह जी ने कहा कि विद्या भारती देश भर में भारतीय विचारों के आधार पर शिक्षा देने का कार्य कर रही है और देश भर में सरस्वती विद्या मन्दिरों का संचालन कर रही है। विद्या भारती द्धारा अपने चार क्रियाकलापों पांच आधारभूत विषयों, चार आयामों, सात अनिवार्य कार्यक्रमों तथा दस करणीय बिन्दुओं के माध्यम से विद्यार्थीयों का पंचकोषीय विकास किया जाता है। इस प्रारूप को आज विश्व में हर संगठन अपना रहा है। विद्यार्थी का विकास कैसे हो वह एक अच्छा खिलाड़ी कैसे बने इसकी योजना विद्या भारती के द्धारा की जा रही है। उन्होंने कहा कि विद्या भारती प्रतिवर्ष विद्यालय स्तर से लेकर अखिल भारतीय स्तर तक खेलों का आयोजन करती है। स्कूल गेम्स फैडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा विद्या भारती को एक राज्य की स्थाई मान्यता प्राप्त है। इन्ही खिलाडी भैया बहनों में से ही कुछ खिलाड़ी चयनित होकर अखिल भारतीय तथा स्कूल गेम्स फैडरेशन ऑफ इंडिया द्धारा आयोजित राष्ट्रीय खेलकूद प्रतियोगिता में भी भाग लेते हैं ।

33वें प्रांतीय खेलकूद समारोह में 11,14,17,19 आयु वर्ग में भैया व बहिनों की कब्बडी की स्पर्धाएं आयोजित हो रही हैं । इस खेलकूद में प्रदेश के छः जिलों से 300 खिलाड़ी भैया-बहिन तथा 50 संरक्षक आचार्य/दीदी भाग ले रहे हैं।

खेलों के उद्घाटन अवसर पर मंत्री हिमाचल शिक्षा समिति श्री चांद सिंह, जिला अध्यक्ष जिला मण्डी श्री गोपाल कृष्ण आजाद, जिला मंत्री जिला मण्डी श्री गोपाल दास, विद्यालय प्रबन्ध समिति के पदाधिकारी, प्रान्त खेल संयोजक श्री युगल किशोर, प्रधानाचार्य श्री ओमपंकाश वालिया, जिला मण्डी के सभी संकुलो के संकुल प्रमुख सहित विद्यालय के आचार्य व दीदी उपस्थित रहे ।

और पढ़ें : अंतर्राष्ट्रीय तटीय स्वच्छता दिवस

Previous articleतीन दिवसीय प्रांतीय खेलकूद एथलेटिक्स
Next article34वीं अखिल भारतीय कुश्ती प्रतियोगिता
सा विद्या या विमुक्तये विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान दिल्ली की प्रांतीय इकाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here