Home पंजाब 22वां अखिल भारतीय विज्ञान मेला

22वां अखिल भारतीय विज्ञान मेला

301
0
22nd Akhil Bharatiya Vigyan Mela

अखिल भारतीय विज्ञान मेले में ओवरऑल चैम्पियन बना उत्तर पूर्व बिहार क्षेत्र।

उत्तर क्षेत्र रनर-अप रहा।

अमृतसर। माधव विद्या निकेतन सीनियर सेकेण्डरी स्कूल, ए-ब्लॉक रंजीत एवेन्यू, अमृतसर में 4 से 7 नवंबर तक विद्या भारती अखिल भारतीय विज्ञान मेले का आयोजन किया गया। विज्ञान मेले में उत्तर पूर्व बिहार क्षेत्र ओवरऑल चैम्पियन बना, जबकि उत्तर क्षेत्र रनर-अप रहा। उत्तर पूर्व क्षेत्र को ओवरऑल चैम्पियन की ट्राफी क्षेत्र प्रमुख श्री राजाराम शर्मा को प्रतिभागी बच्चों के साथ भेंट की गई।

इससे विज्ञान मेले का उद्घाटन डॉ. आदर्श पाल विज, अध्यक्ष पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, विशेष अतिथि प्रतिष्ठित व्यापारी श्री अनिल कोछड, श्री रविंद्र कान्हेरे उपाध्यक्ष, विद्या भारती ने किया। डॉ. आदर्श पाल विज ने कहा कि हमारे प्राचीन ऋषि-मुनि, संत और वेद शास्त्र सभी वैज्ञानिक सोच से जुड़े हुए हैं। श्री शिव कुमार अखिल भारतीय मंत्री विद्या भारती ने विज्ञान प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए कहा कि विद्यार्थियों में वैज्ञानिक दृष्टि होना आवश्यक है।

विज्ञान मेले का उद्देश्य यही दृष्टि विकसित करना है। वहीं, समापन समारोह में मुख्य अतिथि रिटायर्ड

22nd Akhil Bharatiya Science Fair

आईएएस डॉ जगमोहन सिंह राजू ने कहा कि किसी भी देश के विकास तरक्की के लिए विज्ञान बहुत जरूरी है। भारत की संस्कृति ही विज्ञान पर आधारित है। विशेष अतिथि डॉक्टर विनय कपूर मेहरा फार्मर फाउंडर वी.सी. लॉ यूनिवर्सिटी सोनीपत ने भी विचार रखे।

विज्ञान मेले में 11 क्षेत्रों के 47 प्रांतों से 282 प्रतिभागी छात्रों (174 भैया व 108 बहनें), 146 संरक्षक आचार्य और 15 क्षेत्रीय अधिकारियों ने भाग लिया। विज्ञान मेले में विद्या भारती उत्तर क्षेत्र के संगठन मंत्री श्री विजय नड्डा, उत्तर क्षेत्र महामंत्री श्री देशराज शर्मा, उत्तर क्षेत्र उपाध्यक्ष श्री सुरिंदर अत्रि, प्रान्तीय संगठन मंत्री श्री राजेंद्र कुमार, प्रांतीय महामंत्री श्री नवदीप शेखर, अखिल भारतीय विज्ञान संयोजक श्री नगेन्द्र पांडे आदि भी उपस्थित रहे।

इसरो के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा. निशंक ने नन्हें वैज्ञानिकों से किया संवाद

विद्या भारती अखिल भारतीय विज्ञान मेले में विज्ञान वार्ता के लिए आमंत्रित विद्या भारती के पूर्व छात्र व इसरो के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा. निशंक ने चंद्रयान की सॉफ्ट लैंडिंग से स्पेस साइंस तक विस्तृत चर्चा की।

22nd Akhil Bharatiya Vigyan Mela

 

और पढ़ें : प्रारंभिक, माध्यमिक, उच्च माध्यमिक तथा बालिका शिक्षा की संयुक्त बैठक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here